spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
spot_img
spot_img
Monday, October 3, 2022

श्रीलंका की टीम छठी बार एशिया कप चैंपियन बन गई है,  फाइनल में श्रीलंकाई टीम ने पाकिस्तान को 23 रन से हरा दिया। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में छह विकेट गंवाकर 170 रन बनाए। भानुका राजपक्षा ने 71 रन की नाबाद पारी खेली।

जवाब में पाकिस्तान की टीम को 20 ओवर में 147 रन पर ऑलआउट कर दिया। पाकिस्तान की ओर से मोहम्मद रिजवान ने 49 गेंदों में 55 रन की पारी खेली। श्रीलंका की ओर से प्रमोद मदुशन और वानिंदु हसरंगा जीत के हीरो रहे। मदुशन ने तीन और हसरंगा ने एक ही ओवर में तीन विकेट लिए।

श्रीलंका ने सबसे पहले 1986 में एशिया कप का खिताब जीता था। इसके बाद 1997, 2004, 2008, 2014 और अब 2022 में टीम ने टाइटल अपने नाम किया है। भारत ने सबसे ज्यादा सात बार यह खिताब जीता है। श्रीलंका अब उससे बस एक खिताब दूर है।

यह अप्रैल 2014 के बाद पहली बार है जब श्रीलंका ने लगातार पांच टी-20 जीते हैं। इससे पहले टीम ने बांग्लादेश में 2014 में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप में लगातार पांच टी-20 मैच जीते थे। इसी के साथ श्रीलंका ने दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में पिछले 31 टी-20 का सबसे कम टोटल डिफेंड किया है।
इससे पहले दुबई में पिछले 31 टी-20 मैचों में सबसे कम स्कोर जो डिफेंड किया गया था, वह था- 172 रन। 2021 टी-20 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड ने स्कॉटलैंड के खिलाफ 172 रन को डिफेंड किया था। अब एशिया कप के फाइनल में श्रीलंका ने पाकिस्तान के खिलाफ 170 रन को डिफेंड किया। भानुका राजपक्षा को उनकी पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने 20 ओवर में छह विकेट गंवाकर 170 रन बनाए। भानुका राजपक्षा ने तूफानी पारी खेली। श्रीलंका ने एक वक्त 58 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे। पाथुम निसांका (8), कुसल मेंडिस (0), धनंजय डी सिल्वा (28), दानुष्का गुणातिलाका (1), दासुन शनाका (2) जल्दी आउट हो गए। इसके बाद राजपक्षा ने हसरंगा के साथ छठे विकेट के लिए 36 गेंदों पर 58 रन की साझेदारी निभाई। हसरंगा ने 21 गेंदों पर 36 रन की अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया। वह हारिस रऊफ की गेंद पर कैच आउट हुए।

राजपक्षा ने 35 गेंदों में टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का तीसरा अर्धशतक लगाया। उन्होंने सातवें विकेट के लिए चमिका करुणारत्ने के साथ 31 गेंदों पर 54 रन की नाबाद साझेदारी निभाई। टी-20 अंतरराष्ट्रीय में पहली बार किसी टीम की ओर से छठे और सातवें विकेट के लिए 50+ रन की पार्टनरशिप हुई है।

राजपक्षा ने 71 रन की अपनी पारी में छह चौके और तीन छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 157.78 का रहा। पाकिस्तान की ओर से हारिस रऊफ ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। वहीं, नसीम शाह, शादाब खान और इफ्तिखार अहमद को एक-एक विकेट मिला।

Related articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

15,000FansLike
545FollowersFollow
3,000FollowersFollow
700SubscribersSubscribe
spot_img

Latest posts

error: Content is protected !!
× Live Chat
%d bloggers like this: