हरिद्वार : कोरोना संक्रमित इंस्पेक्टर ने अपना ऑक्सीजन सिलेंडर देकर बचाई मरीज की जान करीब चार दिन पूर्व हरिद्वार गंगनहर कोतवाली के इंस्पेक्टर मनोज मैनवाल कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। वर्तमान में वे कोतवाली परिसर में ही होम आइसोलेशन में हैं। मनोजमैनवाल ने जब पांचवे दिन महसूस किया कि खांसी अब थोड़ी कम है और सांस भी थोड़ी कम फूल रही है, तो उन्होंने कुछ व्हाट्सएप ग्रुप में मैसेज डाल कर अपील कर दी कि किसी जरूरतमंद को अगर ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत हो तो वह मुझसे ले जा सकता है।

डाउनलोड शोरवी मार्ट ऐप
डाउनलोड शोरवी मार्ट ऐप

 

बुधवार शाम सुनहरा रूड़की निवासी एक व्यक्ति का उन्हें फोन आया और बताया कि घर में कोरोना मरीज है ऑक्सीजन लेवल बहुत कम हो गया है और ऑक्सीजन सिलेंडर कहीं नहीं मिल पा रहा। अगर जल्द से जल्द नहीं मिला, तो वह बच नहीं पाएंगे। परिवार की आपबीती सुनकर खुद की जान की परवाह किए बगैर मनोज मैनवाल ने परिवार के एक व्यक्ति को घर बुलाया और अपना ऑक्सीजन सिलेंडर उन्हें दे दिया।

 

डाउनलोड शोरवी मार्ट ऐप
डाउनलोड शोरवी मार्ट ऐप

 

जहां पूरा उत्तराखंड कोरोना किस तरह इमाम से जूझ रहा है राज्य के किसी भी कोने में सांस लेने के लिए मरीज को दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही है कहीं अस्पताल में जगह नहीं है तो कहीं अस्पतालों में बेड नहीं है तो कहीं ऑक्सीजन सिलेंडर ही नहीं है ऐसे में मरीज दहशत और डर के कारण जिंदगी से जंग हार रहा है |

 

 

ऐसे में उत्तराखंड पुलिस अपने पूरे परिवार के साथ मरीजों की मदद करने को आगे आ रही है जहां शासन के लोग घरों से निकलने को तैयार नहीं है तो वहीं प्रशासन के सिपाही अपनी ड्यूटी जिम्मेदारी के साथ साथ मरीजों की मदद करने से पीछे नहीं हट रहे हैं ऐसे में उत्तराखंड शासन को सिपाहियों के परिवारजनों के लिए सोचने की जरूरत है

 

डाउनलोड शोरवी मार्ट एप्लीकेशन
डाउनलोड शोरवी मार्ट एप्लीकेशन

 

मुख्यमंत्री तीरथ रावत ने किया कोविड अस्पताल का शुभारंभ,प्रीपेड एम्बुलेंस सर्विस को दिखाई हरी झंडी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here