विधानसभा की भर्तियों में भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है आवेदन पत्र

0
45

विधानसभा की भर्तियों में भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है आवेदन पत्र

‘आदरणीय अध्यक्ष जी, मैं अपना बायोडाटा प्रार्थनापत्र के साथ प्रस्तुत कर रही हूं। मुझे मेरी शैक्षिक योग्यता के अनुसार किसी भी पद पर नियुक्ति प्रदान करें।’ ये जो दो पंक्तियां आवेदकों की हैं।

‘आदरणीय अध्यक्ष जी, मैं अपना बायोडाटा प्रार्थनापत्र के साथ प्रस्तुत कर रही हूं। मुझे मेरी शैक्षिक योग्यता के अनुसार किसी भी पद पर नियुक्ति प्रदान करें।’ ये जो दो पंक्तियां आपने पढ़ी, उस तरह के सैकड़ों आवेदन विधानसभा में समय समय पर हुई भर्तियों के लिए जमा कराए गए थे।

इसे भी पढ़ें – छात्रसंघ चुनाव बहाली को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री से मिले अभाविप के पदाधिकारी, जल्द ही तिथि घोषित करने की मांग 

 

और इन्हीं पर आवेदकों के समीक्षा अधिकारी, सहायक समीक्षा अधिकारी जैसे महत्वपूर्ण और लेाक सेवा आयोग के दायरे के पदों पर नियुक्ति मिल गईं।  विधानसभा की भर्तियों में भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर आवेदकों के पत्र तेजी से वायरल हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये ज्यादातर पत्र आरटीआई के माध्यम से लिए गए हैं। उत्तराखंड भास्कर इन पत्रों की पुष्टि नहीं करता।

 

एक पत्र में आवेदक ने लिखा है कि मैं सर्वप्रथम अपनी स्थिति के बारे में अवगत कराना चाहता हूं। मैं एक गरीब परिवार का सदस्य हूं। महोदय, मुझे विधानसभा में सरकारी नियुक्ति देने की कृपा करें। इस आवेदन को तदर्थ रक्षक बना दिया गया था। एक और आवेदन की बानगी देखिए-निवेदन इस प्रकार है कि मैं एक गरीब परिवार का युवक हूं। मैने कंप्यूटर कोर्स किया है।विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि विस में कुछ पद रिक्त हैं।

इसे भी पढ़ें – UKSSSC : 2015-16 में हुई एसआई भर्ती भी अब जांच के घेरे में, मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने दिए जांच के आदेश 

विस की भर्तियों के आवेदनों के वायरल होने के बाद सोशल मीडिया में खूब मीम बन रहे हैं। राजीव थपलिया ने सीएम को चिट़्ठी लिखते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी मुझे विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि आपके मंत्रिमंडल में तीन पद रिक्त हैं। एक मंत्री के लिए जरूरी पढ़ाई लिखाई भी मेरी हैं। कृपया नियुक्ति देंl

इसे भी पढ़ें – UKSSSC परीक्षाओं को लेकर सीएम ने लिया बड़ा फैसला, रद्द की जाएंगी गड़बड़ी वाली परीक्षाएं

सोशल मीडिया यूजर पल्लव जोशी ने कहा कि उत्तराखंड में केवल प्रार्थना पत्र लिखकर ही नौकरियां मिल गईं हैं। बच्चों तभी मैने कहा था कि अप्लीकेशन और निबंध लिखना जरूर सीख लें। अजय रावत और रोहित ने सीधा पीएम नरेंद्र मोदी को अर्जी भेजते हुए खुद को उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बनाने की गुजारिश की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here