हरीश रावत ने कैप्टन को सुनाई खरीखोटी,अपने वादे पर खरे नहीं उतरें अमरिंदर

पंजाब के पूर्व मुख्यंमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जब से पार्टी से इस्तीफा दिया है तब से पंजाब के अंदर राजनैतिक घमासान मचा हुआ है तो वही पंजाब में मचे राजनीत‍िक घमासान के बीच उत्तराखंड के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने कैप्‍टन अमर‍िंदर स‍िंह को लेकर बड़ा हमला बोल दिया है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह और हरीश रावत

कैप्टन अमरिंदर सिंह के खुद को अपमानित किए जाने वाले दावे पर उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने उनके ‘अपराध’ गिनाते हुए लंबा बयान जारी किया है। हरीश रावत ने कहा क‍ि कांग्रेस पार्टी ने अमर‍िंदर स‍िंह को दो बार 2002 से 2007 और 2017 से 2021 तक सीएम बनाया। और उन्‍हें मुख्यमंत्री के तौर पर पूरी तरह से भी छूट भी दी गयी ।

बावजूद इसके कैप्टन अमरिंदर ड्रग्स, बिजली समेत कई महत्वपूर्ण वादों को पूरा करने में नाकाम साबित रहे। राज्य में ऐसी धारणा बन गई थी कि कैप्टन और बादल एक दूसरे की मदद कर रहे और उनके बीच एक सीक्रेट अंडरस्टैंडिंग बन गई थी।

तो वही पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की आरोपों पर हरीश रावत ने जमकर अपनी भड़ास निकाली है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस ने कैप्टन और उनके परिवार को हमेशा सम्मान दिया है। यहां तक कि 1998 में पटियाला से हारने के बाद भी उन्हें कांग्रेस में जगह दी गई और तत्काल अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया।

वह तीन बार 1999 से 2002, 2010 से 2013 और 2015 से 2017 तक तीन बार अध्यक्ष रहे। लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पार्टी और सरकार के साथ अच्छा नहीं किया पंजाब की जनता की उम्मीदों पर खरा न उतरने के बावजूद भी पार्टी ने कैप्टन को मुख्य भूमिका में रखा लेकिन कैप्टन छल कपट की राजनिति करने लगे है |

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here