हल्द्वानी : उत्तराखंड 2013 की त्रासदी से अभी उभर भी नहीं पाया था की इस विकट आपदा ने लोगो को झंकझोर कर दिया है प्रदेश के अंदर इस त्रासदी ने हर तरह की चोट दी है। इस आपदा में न जाने कितने परिवारों ने अपनों को खो दिया है किसी का भाई तो किसी ने बहन पिता और माता को खोया है परिवार का परिवार इस विकराल त्रासदी का शिकार हो गया है।

त्रासदी से जान गंवाने वाले लोगो के परिवारों में कोहराम मचा हुआ है। भाजपा सरकार ने समय रहते डेमेज कंट्रोल करते हुए बड़ी घटना होने से बचाया है जिसमें देश भर से चारधाम यात्रा के लिए आये हुए श्रद्धालुओं को समय के चलते वापस कर दिया और बड़ा हादसा होने से बच गया है हलाकि प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्र के परिवारों को अपनों की जान देकर खामियाजा भुगतना पड़ा है लेकिन प्रदेश सरकार ने समय रहते प्रथम दिन से आपदा ग्रस्त इलाको में पहुंच कर लोगो की मदद के लिए विशेष टीम को लगाया था

काफी मशक्क्त के बाद प्रशासन की एसडीआरएफ ने इस विकट त्रासदी में लोगो की जान बचाई है। तो वही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खुद मोर्चा सँभालते हुए धरातल पर उतर गए और आपदा ग्रस्त इलाको में पहुंच कर लोगो की मदद करने लगे। पुष्कर सिंह धामी लगातार आपदा ग्रस्त इलाको का निरीक्षण कर रहे है ओर आपदा ग्रस्त गाँव में जाकर लोगो से मिल रहे है और उनके दुःख दर्द को साझा कर रहे है। अभी तक पुष्कर सिंह धामी ने आपदा से पीड़ित लोगो के लिए तमाम घोषणाएं कर दी है। लोगो को हर संभव मदद का आश्वासन दिलाया है।

बता दे आपदा की घटना को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बात कर आपदा की जानकारी ली थी और उन्होंने केंद्र से हर संभव मदद की बात भी कही थी। लगातार हो रही बारिश से करोड़ो अरबो के नुक्सान की भरपाई के लिए केंद्र ने मदद का भरोसा दिलवाया है। हाल ही में केंद्रीय ग्रह मंत्री अमित शाह ने भी उत्तराखंड पहुंच आपदा ग्रस्त इलाको का निरीक्षण किया है। और उत्तराखंड को पूरी मदद का भरोसा दिलवाया है उन्होंने कहा है की उत्तराखंड के लिए केंद्र से हर संभव मदद दी जाएगी इसी घटना को देखते हुए केंद्र स्कार ने उत्तराखंड के चमोली जिले को एयर एम्बुलेंस की सेवा भी उपलब्ध करवा दी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here