spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
spot_img
spot_img
Tuesday, October 4, 2022

उत्तरकाशी पुलिस के जवान द्वारा ह्रदय रोग से पीडित अध्यापक को रात के अंधेरे में बर्फीले रास्तों से सकुशल गन्तव्य तक पहुंचाया गया

जान की सलामती के लिए भावुक होकर अधिकारियों को जवान के हौसला अफजाई के लिए लिखा पत्र:

उत्तराखण्ड पुलिस के स्लोगन “मित्रता सेवा सुरक्षा” को उत्तराखण्ड के पुलिस के जवानों द्वारा कई बार चरितार्थ करते हुये देखा गया है, देवभूमि की मित्र पुलिस ड्यूटी के साथ-साथ अपने मानवीय कार्यों के लिए प्रदेश तथा देशभर में जानी जाती है,

ऐसा ही एक वाक्या जनपद उत्तरकाशी के मोरी क्षेत्र मे देखने को मिला, जहां पर उत्तरकाशी पुलिस का जवान सहायक अध्यापक के लिए देवदूत बनकर सामने आया है।
थाना मनेरी पर नियुक्त पुलिस जवान श्री सुनील मैठाणी की विगत 04-05 फरवरी को पोस्टल बैलेट में ड्यूटी लगी हुई थी, दिनांक 05.02.2022 को उनकी पोलिंग पार्टी पोस्टल मतदान करवाने के बाद उत्तरकाशी मोरी के सदूरवर्ती क्षेत्र ग्राम ताल्लुका (जो क्षेत्र उस समय भारी बर्फ से लदा हुआ था) से पैदल रास्ते (लगभग 05 किमी0) से वापस आ रहे थे। शाम के समय लगभग 04.00 बजे पोलिंग पार्टी के मतदान अधिकारी प्रथम सहा0अ0 प्रेम सिंह (जो ह्रदय रोग पीड़ित हैं) की अचानक तबीयत बिगड़ने से वह रास्ते में पार्टी से पिछडने लगे तथा कुछ देर में वह पूरी तरह से बर्फीले रास्ते में ही लोटपोट हो गये। ऐसे में जवान सुनील मैठाणी द्वारा पीठासीन अधिकारी से अनुमति लेकर उनको नेटवर्क विहीन बर्फीले क्षेत्र (जहां पर जंगली जानवरों का भी लगातार भय बना रहता है) से रात्रि के अंधेरे में मोबाईल की रोशनी में कंधे डण्डे का सहारा देकर अदम्य साहस व बहादूरी का परिचय देते हुये किसी तरीके से रात्रि के 10.00 बजे तक मुख्य मार्ग में लाया गया। जिसके बाद उन्हे सकुशल उनके गन्तव्य तक पहुंचाया गया।
अध्यापक प्रेम सिंह जी द्वारा पुलिस जवान की बहादूरी व अदम्य साहस के कायल हो गये, भावुक होते हुये उनके द्वारा जान बचाने के लिए पुलिस जवान का आभार व्यक्त कर आजीवन ऋणी रहने की बात कही गई। उनके द्वारा पुलिस जवान के हौसला अफजाई के लिए पुलिस अधिकारियों को एक भावुक पत्र भी प्रेषित किया गया।

श्री पी0के0 राय, पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी द्वारा पुलिस जवान सुनील मैठाणी की सराहना करते हुये उत्साहवर्धन हेतु जवान को 5000 रु0/ के नगद पारितोषिक से सम्मानित किया गया।
एसपी महोदय ने कहा कि ड्यूटी के अतिरिक्त पुलिस जवान द्वारा मानवता का परिचय देते हुये साहस और बहादूरी से विषम परिस्थितियों में अध्यापक की सहायता कर जान बचाना काबीले तारीफ है,ऐसे जवान पुलिस विभाग के लिए मिसाल हैं।

Related articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

15,000FansLike
545FollowersFollow
3,000FollowersFollow
700SubscribersSubscribe
spot_img

Latest posts

error: Content is protected !!
× Live Chat
%d bloggers like this: